Parag






स्वागत समारोह (27 अगस्त 2016 )16 )

  • पराग साहित्यिक संस्था का आगाज़ नवागंतुक छात्राओ के स्वागत समारोह से  हुआ जिसमे हिंदी की नवागता श्री सौंदर्य और प्रतिभा के आधार पर चुनाव किया    गया

  • इसी दिन पराग की टीम तैयार की गयी जिसमे शेफाली ढकोल को छात्र अध्यक्ष चुना गया, संयोंजन किया डॉ. सुधा उपाध्याय ने।  

 








2)उदघाटन सत्र - हिंदी संगोष्ठी  ( 14 सितम्बर 2016)

स्त्री लेखन के समक्ष चुनौतियां  
  • सभी वक्ताओं ने   गज़ब का समां बाँधा, डॉ. स्वाति पाल डॉ. रोहिणी अग्रवाल, गीताश्री और  डॉ अनीता भारती ने अपने विचार रखे.

  • एक स्त्री जब यह चिंता करती है कि मैं तुम्हारी नज़र से ख़ुद को क्यो देखूँ   हर बात में तुमसे सहमत ही क्यों रहूँ। जो किताबों में लिखा है उसी से संतुष्ट क्यों हो जाऊँ तो निश्चित तौर पर हमें जूझना पड़ता है।

 








अंत:महाविद्यालयी स्वरचित कविता समय (15 सितम्बर 2016)

  • अंत:महाविद्यालयी स्वरचित कविता  समय का आयोजन किया  गया

  • रेडियो टेलीवीजन और मंच के जाने माने कवि और कलाकार चिराग़ जैन के साथ अन्य निर्णायकों मे डा संध्या गर्ग और सुधा उपाध्याय।

 







सद्य अभिनय (16 सितम्बर 2016 )

  • सद्य अभिनय प्रतियोगिता जानदार रही। निर्णायक के तौर पर बरेली से आई निरुपमा अग्रवाल जी ,डॉ सीमा शर्मा डॉ पूनम यादव

  • विभिन्न कॉलेजों से २७ प्रतिभागियों ने भाग लिया

 







लोक गीत “गायन प्रतियोगिता” ( 18 सितम्बर 2016)

  • दि वि वि के तमाम छात्र और छात्राओं ने पूरे जोश और उत्साह  के साथ लोकगीत गायन प्रतियोगिता को उत्सवधर्मी बना दिया।

  • प्रमुख निर्णायकों में जाने माने गीतकार लोकप्रिय दोहाकार श्री नरेश शांडिल्य जी। फिल्म जगत से प्रसिद्ध लोकसंगीतकार श्री संजय प्रभाकर जी और वाणिज्य विभाग से डा कल्पना भोला जी रहे।

 










प्रेमचंद स्वरचित कहानी प्रतियोगिता (20 सितम्बर 2016)

  • प्रेमचंद स्वरचित कहानी के सभी विजयी पुरस्कृत साथियों के साथ कहानी पर चर्चा की गई। प्रथम द्वितीय और तृतीय के अतिरिक्त ३ प्रोत्साहन पुरस्कार भी दिए गए।

  • निर्णायक रहे श्री आशीष कुमार सिंह, श्री हरेंद्र कुमार और डॉ. वंदना रस्तोगी

 










साहित्यिकी प्रश्नोत्तरी  (12 जनवरी 2016 )

साहित्यिकी प्रश्नोत्तरी का आयोजन किया गया। दिल्ली विश्वविद्यालय के लगभग 18टीम कुल 54प्रतिभागियो ने बड़े उत्साह से हिस्सा लिया। हमारे क्विज़ मेन्टर (प्रश्नकर्ता ) की भूमिका में मौजूद थे जाने माने ब्लॉगर ,इत्रिका के संपादक @vijendra Masijeevi विजेंद्र सिंह चौहान