Abhivyakti


तिथि- 10 फरवरी 2021

विषय- भारतीय लोकतंत्र की मजबूती के लिए ’एक राष्ट्र एक चुनाव’ प्रणाली बेहतर विकल्प है ।

निर्णायक- डॉ. राजकुमार, डॉ. हेमलता और प्रो. दिनेश

विजेता-

पहला स्थान- सत्यम और शुभम (आर्यभट्ट कॉलेज)

दूसरा स्थान- अन्वेशा और आकांक्षा (हंसराज कॉलेज)

तीसरा स्थान- शिवम और आदित्य (मोतीलाल नेहरू कॉलेज)

सर्वश्रेष्ठ प्रश्नकर्ता- शिवम राय ( मोतीलाल नेहरू कॉलेज)

प्लेटफार्म- जूम

समय : 12 PM – 4 PM

कुल प्रतिभागी- 57

पोस्टर-
     

अभिव्यक्ति

हिंदी वाद विवाद समिति

दिनांक : फरवरी10, 2021 ( बुधवार )

अभिव्यक्ति : वाद-विवाद समिति द्वारा वार्षिक उत्सव सिंफनी के अंतर्गत 2021 में अंतर वाद-विवाद प्रतियोगिता सफलतापूर्वक आयोजित की गई।

आयोजित प्रतियोगिता का विषय : भारतीय लोकतंत्र की मजबूती के लिए - एक राष्ट्र एक चुनाव प्रणाली बेहतर विकल्प था।

आज की प्रतियोगिता में निर्णायकों की महती भूमिका डाॅ. राजकुमार (एसोसिएट प्रोफेसर, दयाल सिंह कॉलेज) डाॅ. हेमलता (असिस्टेंट प्रोफेसर, रामानुजन काॅलेज) डॉ. दिनेश अहिरराव ( असिस्टेंट प्रोफेसर, जानकी देवी मेमोरियल कॉलेज) ने निभाई।

प्रतिभागियों ने बड़े दिलचस्प अंदाज़ और तर्कसंगत तरीके से विषय से संबंधित तथ्यों को सभा के समक्ष रखा। निर्णायक मंडल विषय पर तथा सभी प्रतिभागियों द्वारा रखे गए तर्कों-वितर्कों पर अपने विचार रखकर सभा को समृद्ध किया। प्रतियोगिता में कुल 71 टीम का गूगल फाॅर्म माध्यम द्वारा पंजीकरण किया गया व चयनित 17 टीमों ने सफलतापूर्वक आयोजित प्रतियोगिता में भाग लिया।यह बहस सामयिक और सार्थक रही

डॉ. राजकुमार ने लोकतंत्रिक चुनाव में भागीदारी पर जो़र दिया, राष्ट्रीय स्तर पर हिस्सेदारी को महत्व दिया और अल्पसंख्यकों के हितों की सुरक्षा, संसाधनों पर प्रकाश डाला। डॉ हेमलता ने अपने वक्तव्य में लोकतंत्र को जीवित रहने, स्वतंत्रता व अस्मिता को बचाने की बात कही व सचेत रहने की बात पर जो़र दिया। डाॅ. दिनेश अहिरराव ने अपने वक्तव्य में कहा कि चुनावों को केवल खर्चों से नहीं जोड़ा जाना चाहिए बल्कि चुनाव द्वारा उभरे लोकतांत्रिक भाव को सकारात्मक पहलू से देखना चाहिए। चुनाव को केवल नकारात्मक दृष्टि से नहीं तोला जाना चाहिए, बल्कि चुनाव को एक अवसर और उत्सव समझना चाहिए। डॉ. सुधा उपाध्याय ने कहा-लोकल इश्यू और लोकल प्रेसेंटेशन का महत्व आप सबने उठाया ये आशान्वित करता है। स्थानीय प्रतिनिधि और उनसे जुड़े मुद्दे भी ज़रूरी हैं, नहीं तो केंद्र का वर्चस्व बढ़ेगा लोक और लोकतंत्र की मज़बूती पर युवा पीढ़ी केवल जोश से नहीं होश से भी सोचती है। । डॉ. रजनी बाला अनुरागी ने जनता की आवाज़ को लोकतंत्र की मजबूती बताया, चुनाव वह माध्यम है जिनके द्वारा जनता अपनी आवाज़, मुद्दे रखते हैं। लोकतंत्र के सुदृढ़ीकरण के लिए मजबूत जनता का होना आवश्यक है व शुभकामनाओं के साथ सभी प्रतिभागियों को सदैव आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया।

आधुनिक दौर में तकनीकी उपकरणों की सहायता से वर्चुअली इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था।

आयोजित वाद-विवाद प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार :

सत्यम दुबे और शुभम(आर्यभट्ट कॉलेज) द्वितीय पुरस्कार : अन्वेषा और आकांक्षा(हंसराज कॉलेज)

तृतीय पुरस्कार : शिवम राय और आदित्य मिश्रा(मोतीलाल नेहरू कॉलेज) ने प्राप्त किया। सर्वश्रेष्ठ प्रश्नकर्ता का पुरस्कार : शिवम राय (मोतीलाल नेहरू कॉलेज)ने प्राप्त किया। आयोजित प्रतियोगिता में अभिव्यक्ति के सभी सदस्यों के साथ कुल 57 छात्राओं और 17 टीमों ने हिस्सा लिया।

अभिव्यक्ति

(हिंदी वाद-विवाद समिति)

जानकी देवी मेमोरियल कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय



Abhivyakti Report Click here



तिथि- 27 फरवरी 2021

विषय- भारतीय लोकतंत्र में न्यायपालिका अपना कर्तव्य पूरी तरह से निभा रही है।

निर्णायक- डॉ. राजलक्ष्मी और डॉ. खुर्शीद आलम

विजेता-

पहला स्थान- सिमरन

दूसरा स्थान- नसरीन

तीसरा स्थान - बुशरा

सर्वश्रेष्ठ प्रश्नकर्ता- स्याली राय, अनुराधा

प्लेटफार्म – गूगल मीट

समय : 2PM -3 PM

कुल प्रतिभागी - 38

पोस्टर-
     


अभिव्यक्ति

हिंदी वाद विवाद समिति

दिनांक : जनवरी 27, 2021( बुधवार )

अभिव्यक्ति : हिंदी वाद-विवाद समिति द्वारा नववर्ष 2021 में अंतः विभागीय नवागंतुक वाद-विवाद प्रतियोगिता सफलतापूर्वक आयोजित की गई।

आयोजित प्रतियोगिता का विषय : _" भारतीय लोकतंत्र में न्यायपालिका अपना कर्तव्य पूरी तरह से निभा रही है "_ था आज की प्रतियोगिता में निर्णायकों की महती भूमिका डॉ राजलक्ष्मी ( समाजशास्त्र विभाग) और डॉ खुर्शीद आलम ( इतिहास विभाग) ने निभाई।प्रथम वर्ष की छात्राओं ने बड़े दिलचस्प अंदाज और तर्कसंगत तरीके से विषय से सम्बंधित तथ्यों को सभा के समक्ष रखा।

निर्णायक मण्डल ने विषय पर तथा सभी प्रतिभागियों द्वारा रखे गए तर्कों-वितर्कों पर अपने विचार रखकर सभा को समृद्ध किया। कार्यक्रम की संयोजक डॉ सुधा उपाध्याय और डॉ रजनी बाला अनुरागी ने सभी प्रतियोगिगियों को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएं देते हुए न्यायपालिका की भूमिका पर अपने वक्तव्य दिए और सभी प्रतिभागियों को सदैव आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। आधुनिक दौर में तकनीकी उपकरणों की सहायता से वर्चुअली इस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। आयोजित वाद-विवाद प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार : सिमरन,बी.ए. प्रोग्राम; द्वितीय पुरस्कार : नसरीन, बी.ए. प्रोग्राम; तृतीय पुरस्कार : बुशरा इतिहास विशेष ने प्राप्त किया। सर्वश्रेष्ठ प्रश्नकर्ता का पुरस्कार स्याली राय ,बी.ए. प्रोग्राम व अनुराधा; हिन्दी विशेष ने प्राप्त किया। तमाम तकनीकी समस्याओं के बावजूद प्रतियोगिता में अभिव्यक्ति टीम के सभी सदस्यों के साथ कुल 38 छात्राओं और 10 नवागंतुक प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया।

अभिव्यक्ति (हिंदी वाद-विवाद समिति) जानकी देवी मेमोरियल कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय

Annual Assessment Report(Academic year: 2019 - 2020)

Abhivyakti is Hindi Debate Society of Janki Devi Memorial College. On Sep 30 2019, Abhivyakti elected new working member of students; Falak as President, Versha Soni as Vice President, Reema as Vice President, Jyotsana as Secretary and Aditi as Treasurer in the guidance of Convenors Dr. Sudha Upadhyaya and Dr. Rajani Anuragi. Abhivyakti has organised three Hindi Inter University and Inter College level Debates.

Activities:

On 08-01-2020 in College Festival Symphany -Topic 'Janandolan Desh ke Vikas Mein Badhak Hai'.

On 5.11.2019 in College, Topic- 'Hindu Rashtra Hi Bharat Rashtra Hai'

On 31-09-2019 in College, Topic- 'Notbandi Ek Sarthak Kadam Raha hai'

Students' achievements, participation, internship/scholarships


Versha Soni

Consolation Prize in Debate Organised by Kalandi College, DU on 24-10-2019 Topic-'Swach Bharat Abiyan Vyavyasthagat nahi Vyagatigat Hona Chahiya'

2nd Prize in Debate Organised by Gargi College, DU on 07-10-2019 Topic- 'Swach Bharat Abhigyan Plastic ke Poorn Ban se hi Sambhav hai'

3rd Prize in Debate Organised by Janki Devi Memorial College on 31.09.2019 Topic-'Notbandi Ek Sarthak Kadam Raha hai'

Aditi Mirnal

2rd Prize in Debate Organised by Kalandi College, DU on 24-10-2019 Topic-'Swach Bharat Abiyan Vyavyasthagat nahi Vyagatigat Hona Chahiya'

Ist Prize in Debate Organised by Gargi College, DU on 07-10-2019 Topic- 'Swach Bharat Abhigyan Plastic ke Poorn Ban se hi Sambhav hai'

2rd Prize in Debate Organised by Janki Devi Memorial College on 31.09.2019 Topic-'Notbandi Ek Sarthak Kadam Raha hai'




अभिव्यक्ति: हिंदी वाद विवाद समिति

 

दूसरा आयोजन ( वेबिनार और इंटरा कॉलेज वाद विवाद प्रतियोगिता)

तिथि – 2 नवंबर 2020
विषय- ( वेबीनार-  सूचना का अधिकार: कितना असरदार)
वक्ता –  चंदर निगम, सामाजिक कार्यकर्ता और अधिवक्ता ।
Topic – RTI as citizen ' Tool to fight corruption.
Speaker- Mr. Venkatesh Nayak , advocate for Transparency.
डिबेट-  आर टी आई भ्रष्टाचार उन्मूलन का प्रभावी माध्यम है।
RTI is an effective tool to address corruption.
                              और
भ्रष्टाचार हमारे जीवन का अभिन्न अंग बन चुका है, इससे बचना मुश्किल है।
This house believes that corruption has become an intrinsic part of citizens' daily lives can’t be sidestepped effectively.

निर्णायक-  अधिवक्ता चंदर निगम और अधिवक्ता वेंकटेश नायक ।
विजेता-
पहला स्थान- आदिति मृणाल
 दूसरा स्थान- दिव्या गर्ग
तीसरा स्थान - शीतल कुमार और विरोनिका
सर्वश्रेष्ठ प्रश्नकर्ता- विरोनिका
प्लेटफार्म – जूम
समय :  3- 6 PM

कुल प्रतिभागी- 50




अभिव्यक्ति:हिंदी वाद विवाद समिति

दिनांक  : नवंबर 02, 2020 ( सोमवार )

इस वर्ष "अभिव्यक्ति" हिंदी वाद विवाद समिति और "RHETORQUE" अंग्रेजी वाद-विवाद समिति के सहयोग से वर्चुअल वेबीनार व द्विभाषी वाद-विवाद का आयोजन किया गया था। वेबीनार की शुरुआत हमारे आज के वक्ता "श्री वेंकटेश नायक" और अधिवक्ता चंदर निगम" के वक्तव्य के साथ हुई। वेबीनार का विषय "सूचना का अधिकार : कितना असरदार" "RTI as citizen' tool to fight corruption" था। विषय रोचक के साथ-साथ सभी के लिए ज्ञानवर्धक भी रहा। सूचना का अधिकार प्रत्येक नागरिक के लिए कितना आवश्यक है, हमारे वक्ताओं ने अपने अनुभव साझाँ करते हुए बड़े ही सरल बिंदुओं के साथ आज के विषय पर प्रकाश डाला। हमारी प्राचार्या डाॅ.स्वाति पाल द्वारा प्रतिज्ञा लेकर कार्यक्रम को आगे बढ़ाया गया। सूचना के अधिकार से संबंधित सभी के मन में अलग-अलग दुविधाएँ थी। जिसे सुलझाने का प्रयास हमारे वक्ताओं ने सफल रूप से किया। कार्यक्रम के दूसरे चरण में अंत महाविद्यालय वाद-विवाद प्रतियोगिता का आरंभ हुआ।
प्रतियोगिता में कुल 12 प्रतिभागियों ने भाग लिया। प्रतिभागियों के उत्साह ने कार्यक्रम में चार चांद लगा दिए। प्रतियोगिताएं द्विभाषी रखी गई थी। जिसमें अंग्रेजी वाद-विवाद समिति व हिंदी वाद-विवाद समिति की छात्राओं ने मिलकर भाग लिया था। बड़ी दिलचस्प अंदाज में सभी प्रतिभागियों ने अपने तथ्यों को सबके समक्ष रखा। सभी प्रतिभागियों व वेबीनार में उपस्थित सभी का सहृदय धन्यवाद। आप सभी उपस्थिति ने आज के इस कार्यक्रम को सफलता के मुकाम तक पहुंचाया है। आयोजित वाद-विवाद प्रतियोगिता में प्रथम पुरस्कार : अदिति मृणाल (हिंदी वाद-विवाद समिति), द्वितीय पुरस्कार : दिव्या गर्ग (हिंदी वाद विवाद समिति),  तृतीय पुरस्कार : शीतल तोमर (हिंदी वाद विवाद समिति) व विरोनिका (अंग्रेजी वाद-विवाद समिति) ने प्राप्त किया। सर्वश्रेष्ठ इंटर्जेक्टर का पुरस्कार (अंग्रेजी वाद-विवाद समिति)की विरोनिका ने प्राप्त किया। सभी विजेताओं को हमारी ओर से ढेरों शुभकामनाएं।

 धन्यवाद
अभिव्यक्ति
(हिंदी वाद-विवाद समिति)



परिचय:

  •   नवनिर्मित संस्था 2013-14
  •  पूर्व नाम विचार
  •  वर्तमान नाम अभिव्यक्ति ’
  •   महाविद्यालयी और अंतर-महाविद्यालयी प्रतियोगिताओं का  संयोजन

 

उद्देश्य :

  • समसामयिक एवं ज्वलंत विषयों पर विद्यार्थियों की अभिव्यक्ति एवं तर्क क्षमता को निखारने के लिए मंच प्रदान करना

•        विद्यार्थियों का ज्ञानवर्धन करना तथा आत्मविश्वास बढ़ाना

 

विगत वर्षों के मुख्य आयोजन :

—  2017,

मुद्रा परिवर्तन सार्थक है

—  2016,

कड़े कानून बदलाव ला सकते हैं

—  2015,

पाश्चात्य संस्कृति का अंधानुकरण घातक है

—  2014,

सोशल मीडिया में स्त्री असुरक्षित है

अग्रिम मुख्य आकर्षण :

•        नैतिक मूल्य पाठ्यपुस्तकों तक ही सीमित हैं

•        दिव्यांग जन सम्मान के अधिकारी हैं

•        बुजुर्ग हमारे पथ प्रदर्शक हैं

•        महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए सामाजिक सुरक्षा ज़रूरी है

•        पर्यावरण को बचाना भावी पीढ़ी को बचाना है

•        जी. एस. टी. एक अच्छा और सरल कर है

भविष्य योजना :

•       विद्यार्थियों को तार्किक एवं वाक्पटु बनाने के लिए कार्यशाला का आयोजन

•       वाद-विवाद प्रतिगयोताओं में भाग लेने के लिए अधिक से अधिक विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करना      

   

 संयोजिका                                           सहयोगी

 डॉ.वंदना                                          माधवी रंजन                                        पूनम सैनी






WDC Events Organized by HDFE Dept